कविता बिश्नोई ।हरियाणा के चर्चित आईएएस अधिकारी डा. अशोक खेमका जो कि अपनी ईमानदारी और बेबाक़ी से अपनी बात रखने के लिए जाने जाते हैं ..उन्होंने एक बार‍ फिर ट्वीट बम दागा है। खेमका ने इस बार सीबीआई को कटघरे में खड़ा किया हैं।खेमका ने ट्विट किया हैं कि सीबीआई का सालाना बजट 800 करोड़ रूपये हैं ,इतनी भारी भरकम बजट वाली संस्था पर सवाल उठाना जायज़ हैं पिछले कई सालों में किसे सजा हुई,कौन बरी हुआ,किसे लटकाया इन सबकी जानकारी और जवाबदेही कैसे तय हो ।खेमका ने ट्विट में आगे लिखा कि हाथी के दांत खाने के और दिखाने के और होते हैं।

।आपको बता दे अशोक खेमका का भाजपा और उससे   पहले कांग्रेस की हुड्डा सरकार में भी कई बार ट्रांसफर हुआ था। वह जिस भी विभाग में जाते हैं, घोटाले के मामले उजागर करते रहे हैं। खेल विभाग से पहले उन्होंने समाज कल्याण विभाग में फर्जीवाड़े की आशंका पर 3 लाख से ज्यादा बुजुर्गों की पेंशन रोक दी थी। इससे पहले बीज विकास निगम में भी घोटाला पकड़ा था।खेमका ने अरावली क्षेत्र में हो रही चकबंदी को रोका था। 2012 में खेमका कॉन्सोलिडेशन ऑफ होल्डग्सिं डिपार्टमेंट के निदेशक बने थे। तब उन्होंने एक आदेश जारी कर अरावली क्षेत्र में चकबंदी के पहले से चले आ रहे आदेशों को रद्द कर दिया था। फरीदाबाद के गांव कोट में 3100 एकड़ से ज्यादा जमीन की चकबंदी हो रही थी, जिसमें ज्यादातर हिस्सा अरावली की जमीन का था। खेमका ने इस पर एतराज जताया था, जिसे उनके तबादले की वजह माना गया।

 

 

Share this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *