कोरोनावायरस का डेल्टा वेरिएंट्स डॉक्टरों के अनुसार बहुत ही खतरनाक बताया जा रहा है ‌। बता दें कि कोरोनावायरस का डेल्टा वेरिएंट चेचक की तरह बहुत संक्रामक है यह डीके से मिली सुरक्षा को भी तोड़ सकता है। वायरस के दूसरे वेरिएंट कि अगर तुलना की जाए तो यह बीमारी सबसे ज्यादा खतरनाक है। सीडीसी के निदेशक डॉ रोशेल बैलेंसकी के अनुसार टीका लगवाने वाले लोगों में भी डेल्टा वेरिएंट उसी तरीके से फैल सकता है जैसे कि बिना टीका लगवाने वाले लोगों में। आंतरिक दस्तावेज में इस वेरिएंट का एक बहुत ही गंभीर दृश्य प्रस्तुत किया गया है। डेल्टा वेरिएंट इबोला, जुखाम, मौसमी बुखार और स्मालपॉक्स के कारक वायरस की तुलना में ज्यादा तेजी से फैलता है और यह चीज की तरह संक्रामक है।
देशभर में फैले डेल्टा वेरिएंट को लेकर सीडीसी के वैज्ञानिकों में काफी चिंता है। सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार डेल्टा को लेकर जो आंकड़े सामने आ रहे हैं वह बहुत ही खतरे की तरफ इशारा करते हैं जिसे निपटने के लिए तुरंत कार्यवाही किए जाने की जरूरत है अमेरिका में इस समय प्रतिदिन औसतन 71 नए मामले डेल्टा वेरिएंट के सामने आ रहे हैं। नए आंकड़ों के अनुसार टीका लगवाने वाले लोग भी वायरस फैला रहे हैं और नए मामलों की संख्या बढ़ाने का कारण बन रहे हैं।

Share this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *