हरियाणा के दो मुख्यमंत्री देवीलाल और बंसीलाल की तर्ज पर अब पूर्व सीएम चौधरी भजनलाल की प्रतिमा लगाई जाएगी। आपको बता दें की प्रदेश में भजनलाल की 11 प्रतिमाएं लगाने का प्रारुप तैयार किया गया है। भजनलाल की प्रतिमाएं धातु से बनी होंगी। इन प्रतिमाओं को पूणे में बनवाया जा रहा है।

सबसे पहले भजनलाल की प्रतिमा राजस्थान के मुकाम स्थित मुक्ति धाम के सामने बने पार्क में लगेगी। मुकाम में बिश्नोई समाज का सबसे बड़ा धाम है। अखिल भारतीय महासभा ने की इन प्रतिमाओं को देश के विभिन्न राज्यों में लगाने का प्रारुप तैयार किया है। भजनलाल के छोटे बेटे पूर्व सांसद कुलदीप बिश्नोई इस महासभा के संरक्षक है। राजस्थान, हरियाणा, पंजाब, उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश और गोवा समेत कई राज्यों के बिश्नोई समाज के लोग इस महासभा से जुड़े हुए हैं। जहां देवीला और बंसीलाल की प्रतिमाएं उनके राजनीतिक अनुयायियों, समर्थकों व परिवार के सदस्यों द्वारा स्थापित की गई है। वहीं भजनलाल ऐसे पहले नेता है जिनकी प्रतिमा उनके समाज के लोगों द्वारा लगाई जा रही है।

भजनलाल के बारे में कुछ रोचक बातें..

भजनलाल का जन्म 6 अक्टूबर 1930 को हुआ। भजनलाल हरियाणा के तीन बार 1979, 1982,1991 में मुख्यमंत्री रह चुके हैं। भजनलाल मुख्यमंत्री के अलावा एक बार केंद्रीय मंत्री भी रह चुके हैं।  वर्ष 2004 में कांग्रेस ने विधानसभा चुनाव भजनलाल के नेतृत्व में लड़ा था तब पार्टी भारी बहुमत से जीत हासिल की थी। लेकिन उस समय भूपेंद्र सिंह हुड्डा को हाईकमान ने मुख्यमंत्री बना दिया तब भजनलाल ने नाराज होक हरियाणा जनहित कांग्रंस (हजकां बीएल) के नाम से अलग पार्टी का गठन किया था। भजनलाल के गुजरने के बाद भजनलाल के छोटे बेटे कुलदीप बिश्नोई ने इस पार्टी को संभाला। अब इस पार्टी का कांग्रेस में विलय हो चुका है। भजनलाल की गैर जाट मुख्यमंत्री के रुप में बड़ी पहचान रही है। आदमपुर के विधायक एवं बिश्नोई महासभा के संरक्षक कुलदीप बिश्नोई ने अपने पिता की 11 प्रतिमाए लगाए जाने की पुष्टि की है।

 

Share this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *