चंडीगढ़(दीपक कुमार) – जेजेपी प्रधान महासचिव दिग्विजय सिंह चौटाला ने आंदोलन के दौरान किसानों पर दर्ज हुए मुकद्दमे तुरंत वापस लेने की मांग हरियाणा सरकार से की हैं। दिग्विजय चौटाला ने कहा कि केंद्र सरकार ने सराहनीय कदम उठाते हुए तीन नए कृषि कानूनों को वापस लेकर किसानों की बड़ी मांग को पूरा किया है और अब राज्य सरकार को बिना देरी किए किसानों पर दर्ज मामलों को वापस लेना चाहिए ताकि उन आंदोलनकारी किसानों को भी राहत पहुंचेजिन पर केस दर्ज है।

JJP प्रधान महासचिव ने राज्य सरकार से आग्रह करते हुए कहा कि किसान आंदोलन में किसानों पर मुकद्दमे दर्ज हुए है। उन्होंने कहा कि आंदोलनकारियों की भावनाओं के अनुरूप इन मामलों को वापस लेने में हरियाणा सरकार गंभीरता दिखा रही है। दिग्विजय ने कहा कि सरकार सही दिशा में आगे बढ़ रही है और अब राज्य सरकार को इसमें बिना देरी किए मुकद्दमे वापस लेने चाहिए। उन्होंने कहा कि जैसे केंद्र सरकार के कानून वापसी के फैसले की सब ने सराहना कीउसी तरह मुकद्दमे वापसी के कदम को भी सराहा जाएगा इसलिए सरकार को मुकद्दमों की वापसी में देरी नहीं करनी चाहिए।

1 दिसंबर के दिन इनसो ने रचा था इतिहासदिग्विजय ने युवाओं को दी बधाई

आज ही के दिन छात्र संगठन इनसो ने अपने समाजिक सरोकार के रोल को बखूबी निभाते हुए बड़ा रिकॉर्ड कायम किया था और जिसकी चर्चा हर जगह हुई। दरअसल1 दिसंबर2013 के दिन दिग्विजय चौटाला के नेतृत्व में इनसो ने रोहतक में बड़े नेत्रदान कैंप का आयोजन किया। इस कैंप में युवाओं ने बढ़-चढ़कर भाग लिया और सर्वाधिक 10 हजार 883 लोगों को नेत्रदान करवा कर इनसो का नाम गिनीज बुक ऑफ रिकार्ड्स में दर्ज करवाया। जेजेपी प्रधान महासचिव दिग्विजय चौटाला ने इनसो में बिताए अपने इन पलों को याद करते हुए इनसो से जुड़े सभी युवाओं को इस रिकॉर्ड को दर्ज कराने की बधाई दी और कहा कि इनसो सदैव समाजिक सरोकार से जुड़े कार्यों में आगे रही है। उन्होंने कहा कि आगे भी इनसो ऐसे जनसेवा के कार्यों का बढ़-चढ़कर आयोजन करवाती रहेगी।

Share this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *