दिल्ली (रेणु)- चीन के साथ सीमा विवाद को लेकर भारतीय नौसेना के टॉप कमांडर्स की कॉन्‍फ्रेंस शुरू हो रही है.  तीन दिन तक चलने वाली यह कॉन्‍फ्रेंस इसलिए बेहद अहम है. नौसेना पहले से ही हिंद महासागर में ऑपरेशनल अलर्ट पर है. सीमा पर जरा से हालात और खराब हुए तो नेवी पूरी ताकत के साथ दुश्‍मन को समुद्र में तहस-नहस के लिए पूरी तरह तैयार है. जंगी जहाज, सर्विलांस और एयरक्राफ्ट कैरियर्स पूरी तरह से तैयार हैं.

लद्दाख सेक्‍टर में भी इंडियन नेवी की मौजूदगी है. नौसेना के खास पोसाइडन-8I एयरक्राफ्ट का यूज वहां सर्विलांस के लिए हो रहा है. बता दे कि नेवल कमांडर्स की कॉन्‍फ्रेंस में चीन पर ही फोकस रहने की संभावना है। नेवी ने जिस तरह से हिंद महासागर में सर्विलांस बढ़ाया है, उससे साफ इशारा मिलता है कि उसे चीन के मंसूबों का अंदाजा है.  चीन ने जिस तरह से दक्षिण चीन सागर में अपने कब्‍जे को बढ़ाया है, उसके बाद उसकी निगाहें इस ओर भी होंगे.  ग्‍लोबल पावर बनने के लिए चीन को हिंद महासागर पर प्रभुत्‍व स्‍थापित करना ही होगा, मगर यहां उसका सामना भारतीय नौसेना से है जो इस इलाके में सुपरपॉवर है.

Share this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *