राजस्थान (अरुण शर्मा)- एक दिन दहला देने वाला मामला सामने आया है। जहां होमवर्क न करने की एक छात्र को इतनी बड़ी सजा मिली की आप सोच भी नहीं सकते। छात्र के होमवर्क पूरा नहीं करने पर टीचर को इतना गुस्सा आया की उसने ऐसी खौफनाक घटना को अंजाम दिया की आप हैरान रह जाएंगे।टीचर गुस्से में कभी ऐसा कदम उठा सकते हैं ये सोच से परे है। 13 साल के बच्चे को होमवर्क नहीं करने की ऐसी सजा मिली की सुनकर आपका दिल दहल जाएगा।

बता दें कि राजस्थान के राजस्थान के चूरू जिले के सालासर के गांव कोलासर में एक टीचर ने गुस्से में सातवीं कक्षा के छात्र को पीट-पीट कर मार डाला। छात्र का कसूर सिर्फ इतना था कि उसने होमवर्क नहीं किया था। जिससे गुस्साए टीचर ने उसकी जान ले ली।

पुलिस के मुताबिक सालासर के कोलसर गांव निवासी ओमप्रकाश ने शिकायत दी की उसका बेटा गणेश कोलासर के एक नीजि स्कूल मॉर्डन पब्लिक स्कूल में सातवीं कक्षा का छात्र था। गणेश ने अपने पिता को तीन-चार बार शिकायत दी थी कि उसका टीचर मनोज बेवजह उसके साथ मारपीट करता है। बुधवार को भी गणेश स्कूल गया था। बुधवार को करीब सुबह साढ़े नौ बजे गणेश के पिता ओमप्रकाश को टीचर मनोज का फोन आया और उसने कहा कि आज गणेश होमवर्क नहीं करके लाया है। इसलिए उसकी पिटाई की गई है और वह बेहोश हो गया है।

खेत में काम कर रहे ओमप्रकाश ने शिक्षक से पूछा की बेहोश हो गया है या मर गया है? इस पर शिक्षक ने कहा कि वह मरने का नाटक कर रहा है। थोड़ी देर बाद ओमप्रकाश स्कूल पहुंचा, जहां उसकी पत्नी पहले से मौजूद थी। स्कूल के बाकि बच्चों ने बताया की टीचर ने गणेश को लात-घूंसो से मारपीट की और जमीन पर पटक-पटक कर पिटाई की। जिससे वह लहूलूहान हो गया। परिजनों के स्कूल में पहुंचने के बाद गणेश को एक निजी अस्पताल में ले जाया गया। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

एसएचओ संदीप बिश्नोई ने बताया की बच्चे के पिता की शिकायत पर आरोपी शिक्षक मनोज के खिलाफ धारा 302 का मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया गया है।

 

Share this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *